Army wome job

जानें महिलाएं कैसे कर सकती हैं Army में Job

Army wome job

भारतीय सेना में महिलाएँ; CDS के द्वारा एक सैन्य अधिकारी के रूप में सेना से जुड़ सकती हैं। इसके साथ मेडिकल से ले कर टेक्निकल तक भारतीय सेना के सभी क्षेत्रों में महिलाओं के लिए पर्याप्त अवसर हैं।

आज हम इस आर्टिकल के माध्यम से इस बात पर प्रकाश डालेंगे कि महिलाएँ किस प्रकार भारतीय सेना में अपनी सेवाएँ दे सकती हैं, इसके लिए उनकी क्या क्या शैक्षणिक योग्यता होनी चाहिए, वे किस प्रकार आर्मी में नौकरी के लिए आवेदन कर सकतीं है, और उनका वेतन कितना होगा इत्यादि।

 

महिलाओं के लिए भारतीय सेना में प्रवेश हेतु मुख्यतः पाँच द्वार हैं:

महिलाओं के लिए इंडियन आर्मी में जाने के तरीके
1. ग्रेजुएट यू.पी.एस.सी (Graduate UPSC) 2. ग्रेजुएट नॉन यू.पी.एस.सी (Graduate Non-UPSC) 3. ग्रेजुएट टेक एंट्री (Graduate Tech Entries) 4. मिलिट्री नर्सिंग सर्विस (Military Nursing Service) 5. सोल्जर जनरल ड्यूटी – महिला मिलिट्री पुलिस (Women Military Police)

1.  ग्रेजुएट  यू.पी.एस.सी (Graduate UPSC)

  •  संघ लोक सेवा आयोग (Union Public Service Commission) के द्वारा प्रतिवर्ष 2 बार सी.डी.एस. (Combined Defence Services) परीक्षा के माध्यम से SSCW (शॉर्ट सर्विस कमीशन वीमेन) नॉन टेक्निकल शाखा के लिए भारतीय सेना में महिला अधिकारियों का चयन किया जाता है। 
  • महिला अधिकारियों की भर्ती की उपलब्धता के आधार पर साल में दो बार 12-12 महिला अधिकारियों का चयन किया जाता है। जिसका नोटिफ़िकेशन आप यू.पी.एस.सी की आधिकारिक वेबसाइट पर जुलाई व नवम्बर के माह में देख सकते हैं।
  • अविवाहित महिला उम्मीदवार ही इस शाखा के अंतर्गत आवेदन कर सकती हैं, जिनकी आयु 19 से 25 वर्ष के मध्य होनी चाहिए।
  • किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन की डिग्री होनी चाहिए।
  • महिला अधिकारियों के चयन के लिए SSB इंटरव्यू जून, जुलाई और नवम्बर, दिसंबर में लिए जाते हैं।
  • चयनित महिला अधिकारियों की ट्रेनिंग; ऑफिसर्स ट्रेनिंग अकादमी (OTA) चेन्नई में 49 सप्ताह तक होती है।

  2. ग्रेजुएट नॉन-यू.पी.एस.सी (Graduate Non-UPSC)

महिला अधिकारियों के चयन के लिए यू.पी.एस.सी के अतिरिक्त नॉन-यू.पी.एस.सी परीक्षाओं (non-UPSC) का भी आयोजन किया जाता है। नॉन यू.पी.एस.सी के अंतर्गत महिला अधिकारियों की चयन प्रक्रिया के लिए दो शाखाएँ जोड़ी गई हैं।

1. SSCW (शॉर्ट सर्विस कमीशन वुमन) NCC स्पेशल एंट्री
2. SSCW (शॉर्ट सर्विस कमीशन वुमन) जेएजी – जज एडवोकेट जनरल (JAG)

   3. ग्रेजुएट टेक एंट्री (Graduate Tech Entries) Army wome job 

  • इस प्रवेश परीक्षा के द्वारा SSCW (शॉर्ट सर्विस कमीशन वीमेन) टेक्निकल शाखा के लिए भारतीय सेना में इंजीनियर महिला अधिकारियों का चयन किया जाता है।
  • भारतीय सेना के विज्ञापन की अधिसूचना के अनुसार ही महिला इंजीनियर विद्यार्थियों; जो कि 20 से 27 वर्ष के समूह के मध्य आती हैं उन्हें इस परीक्षा के द्वारा भर्ती किया जाता है।
  • आवेदक के पास इंजीनियरिंग के किसी भी क्षेत्र से ग्रेजुएशन डिग्री होना आवश्यक है।
  • भारतीय सेना में महानिर्देशालय भर्ती / एजी शाखा द्वारा प्रेत्यक वर्ष दो बार अप्रैल और अक्टूबर के महीने में 20-20 पात्र उम्मीदवारों को नियुक्त किया जाता है।
  • आवेदक का अविवाहित होना आवश्यक है अथवा इसके लिए शहीद की विधवा भी आवेदन कर सकती हैं।
  • महिला अधिकारियों के चयन के लिए SSB इंटरव्यू दिसंबर,जनवरी और जून व जुलाई में लिए जाते हैं।
इंडियन आर्मी में SSB की प्रक्रिया कुछ इस प्रकार है:
  •  चयनित महिला अधिकारियों की ट्रेनिंग; ऑफिसर्स ट्रेनिंग अकादमी (OTA) चेन्नई में 49 सप्ताह तक होती हैं।

  4. मिलिट्री नर्सिंग सर्विस (Military Nursing Service) Army wome job 

  • महिलाओं के लिए भारतीय सेना में मिलिट्री नर्सिंग सर्विस एक महत्वपूर्ण विकल्प है, जिसके माध्यम से इच्छुक महिला उम्मीदवार भारतीय सेना में शामिल हो सकती हैं।
  • आवेदक की आयु 21 से 35 वर्ष के मध्य होनी चाहिए।
  • एकल/ विवाहित / तलाक़शुदा या कानूनी रूप से अलग और विधवा सभी आवेदन करने के लिए पात्र उम्मीदवार हैं।
  • आवेदक का M.Sc(नर्सिंग)/ PBBsc(नर्सिंग)/ Bsc(नर्सिंग) होना चाहिए।
  • आवेदक स्टेट नर्सिंग काउंसिल से रजिस्टर्ड नर्स एवं मिडवाईफ होनी चाहिए।
  • शॉर्ट सर्विस कमीशन पूर्ण होने के बाद MNS (मिलिट्री नर्सिंग सर्विस) महिला अधिकारी परमानेंट कमीशन प्राप्त कर सकती है जो कि वेकन्सी की उपलब्धता व मेरिट लिस्ट के आधार पर होता है।

  5. सोल्जर जनरल ड्यूटी (महिला मिलिट्री पुलिस) – Women Military Police

  • वर्ष 2019 में प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी व पूर्व रक्षा मंत्री श्रीमती निर्मला सीतारमन के नेतृत्व में यह घोषणा की गई कि अब से भारतीय सेना में महिलाओं की भी खुली भर्तियाँ की जाएगी। तत्पश्चात ही 2019 में पहली बार भारतीय सेना ने महिलाओं के लिए 100 सोल्जर जनरल ड्यूटी पदों पर भर्तियाँ निकली।
  •  भारतीय सेना द्वारा इस इस भर्ती के लिए महिलाओं की आयु साड्डे 17 वर्ष से 21 वर्ष रखी है।
  • आवेदक का अविवाहित होना आवश्यक है।
  • आवेदक का किसी भी मान्यता प्राप्त विद्यालय से 10वीं 45% के साथ पास होना आवश्यक है।
  • आवेदक की लम्बाई कम से कम 142cm (4′.69″) होनी चाहिए।
  • आवेदक के वजन का पैमाना भारतीय सेना के द्वारा फ़ील्ड पर ही तय किया जाता है।
  • आवेदक  को 1600 मीटर की दौड़ करवाई जाती है जहाँ उसे 8 मिनट का समय दिया जाता है। इसके अतिरिक्त आवेदक को लम्बी कूद व ऊँची कूद भी करवाई जाती है।
  • जिन आवेदकों के पिता सेना को अपनी सेवाएँ दे चुके है या दे रहें है या जिन आवेदकों के पिता शहीद हो चुके है उन्हें लम्बाई व वजन में 2-2 अंक की छूट मिलती है।
  • मेडिकल परीक्षा के बाद कॉमन एंट्रेंस एक्सामिनेशन (CEE – Common Entrance Examination) के द्वारा लिखित परीक्षा का आयोजन होता है।
  • CEE में नेगेटिव मार्किंग लागू होती है।
  •  जिन आवेदकों के पास NCC का C  सर्टिफ़िकेट होता है उनकी  लिखित परीक्षा नही होती है, अथवा जिन आवेदकों के पास NCC का A और B सर्टिफ़िकेट होता है उन्हें क्रमश: 5 व 10 अंकों की अतिरिक्त छूट मिलती है।
  • Applicants whose father has served or are serving the Army or applicants whose father has been martyred get an additional relaxation of 20 marks in the written examination.
  • जिन आवेदकों के पति शहीद हो चुके है उन्हें भी 20 अंकों की अतिरिक्त छूट मिलती है।
  • एकल / विवाहित / तलाक़शुदा या कानूनी रूप से अलग और विधवा सभी आवेदन करने के लिए पात्र उम्मीदवार हैं, बशर्ते उन्हें बच्चे नहीं होने चाहिए।
  • विधवाओं के लिए भर्ती में कुछ अलग से मानदंड बनाए गये है जिसके अनुसार यदि उन्होंने दोबारा शादी नहीं की हो तो ही आवेदन कर सकतीं है।

 भारतीय सेना से जुड़ने हेतु विधवाओं के लिए प्रावधान: Army wome job 

  • शहीद की पत्नी एक आवेदक के रूप में SSCW (शॉर्ट सर्विस कमीशन वुमन) नॉन टेक्निकल शाखा (Non UPSC) और  SSCW (शॉर्ट सर्विस कमीशन वुमन) टेक्निकल शाखा के लिए 35 वर्ष की आयु तक आवेदन कर सकती है।
  • SSCW(शॉर्ट सर्विस कमीशन वुमन) नॉन टेक्निकल शाखा
  • (Non UPSC) के लिए आवेदन करने हेतु आवेदक के पास 
  • किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन की डिग्री होनी चाहिए।
  •  SSCW (शॉर्ट सर्विस कमीशन वुमन) टेक्निकल शाखा के लिए
  • आवेदक के पास किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से इंजीनियरिंग के किसी भी क्षेत्र से ग्रेजुएशन डिग्री होनी चाहिए।
  • आवेदन वेकन्सी की उपलब्धता के आधार पर लिए जाते हैं।

भारतीय सेना से जुड़ने हेतु महिलाओं के लिए कुछ अन्य महत्वपूर्ण सवालों के जवाब:

क्या SSC(शॉर्ट सर्विस कमीशन ) के बाद महिला अधिकारी PC(परमानेंट कमीशन) से जुड़ सकती हैं?
 SSC(शॉर्ट सर्विस कमीशन ) के बाद महिला अधिकारियों को PC (परमानेंट कमीशन) की कौनसी शाखाओं में जगह दी जाएगी?
ट्रेनिंग के समय क्या शाकाहारी महिला उम्मीदवारों के लिए अलग से खाना बनाया जाता हैं?
Spread the love
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

1 thought on “जानें महिलाएं कैसे कर सकती हैं Army में Job”

  1. Pingback: Chhattisgarh Reporter Recruitment 2020 Online Form Apply Online

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top