10 तरीकों से दूर करें रिश्ता टूटने का डर, चुटकी में दूर होगा गर्लफ्रेंड के छोड़ जाने का भय!

 रिश्ता, दिल और शीशा, इनको टूटने से बहुत कम कपल्स ही बचा पाते हैं। इसी वजह से अधिकतर लड़के-लड़कियों के मन में रिश्ता टूटने का डर (Relationship Fear) बना रहता है।



खासकर पुरुष अपनी गर्लफ्रेंड को खोने को लेकर बहुत असुरक्षित महसूस करते हैं। इसी चक्कर में वे अपने रिलेशनशिप को लेकर गलतफहमी में पड़ जाते हैं। जिससे रिश्ता टूटने की कगार पर पहुंच जाता है।


ऐसे में अगर आप भी रिश्ता टूटने या अपनी पार्टनर के चले जाने के डर में जी रहे हैं तो यहां पर दिए 10 तरीकों से खुद को संभालें। इसके बाद शायद आपका रिश्ता मजबूत भी बन जाए और आपके मन से डर दूर भी हो जाए।


कोई भी ऐसी बात मन में घर कर जाए तो फिर बेड़ा गर्क हो जाता है। इसलिए हमें कारण को समझना चाहिए। क्योंकि इसको जानने के बाद शायद रिश्ते को जोड़ने या मजबूत


1. खुद पर करें 

एक सवाल अपने आप से करें- क्या आपको खुद पर यकीन है? अगर हां तो फिर इस डर को निकाल दें और रिश्ते को संभालने में जुट जाएं। अगर अपने आप पर यकीन नहीं करेंगे तो ऐसे में आपका आत्मविश्वास खत्म होगा। इससे शायद आपकी पार्टनर भी आप पर भरोसा करना छोड़ दे। इसलिए खुद पर भरोसा करना सीखें।


2. रिश्ते को बनाएं मजबूत

क्या आपको लगता है रिश्ता कमजोर हो रहा है। अगर हां, तो फिर बिना देरी किए हुए रिश्ते को स्ट्रांग बनाएं। रिलेशनशिप को कमजोर बनाने वाली आदतों को छोड़ दें। तब जाकर शायद आपके भीतर भी रिश्ते को लेकर एक सुरक्षित भावना जगेगी। 


3. भ्रम न पालें

भ्रम पालना अच्छी बात नहीं होती है। ये किसी भी रिश्ते के लिए खतरनाक माना जाता है। इसलिए अगर आप भी अपने रिश्ते को लेकर किसी प्रकार के वहम को मन में लिए बैठे हैं तो उसे दूर कर दें। इस कारण बेमतलब ही मूड खराब रहेगा और रिश्ता टूट जाएगा।


4. न लड़ाई, न झगड़ा

रिश्तों में मनमुटाव या अनबन तक तो बात ठीक है लेकिन यह भी ज्यादा नहीं होनी चाहिए। इसलिए पार्टनर के साथ झगड़ा करने से बचें। हां, अगर किसी बात को लेकर सहमति या असहमति है तो इसे बात करके दूर कर लें। इससे समस्या भी खत्म हो जाएगी और झगड़े के कारण बात भी नहीं बढ़ेगी।


5. पार्टनर की बात सुनें

जब आप अपनी पार्टनर की बात को सुनना बंद कर देंगे तो उसे समझ भी नहीं पाएंगे। किसी को समझने के लिए उनकी बातों को अच्छी तरह से सुनना-समझना जरूरी होता है। इसलिए जब आपकी पार्टनर किसी बात को बताए तो सुनने के बाद ही जवाब दें। साथ ही जजमेंटल होने से बचें।


6. अपने शक को दूर करें

कई बार रिश्ते शक की वजह से ही खत्म हो जाते हैं और पता तक नहीं चलता। खासकर लड़के अपनी गर्लफ्रेंड पर बेवजह शक करने लगते हैं। इसलिए अगर किसी बात को लेकर मन में सवाल पैदा हो रहा हो तो अपनी पार्टनर से पूछें। उससे अच्छी तरह बातचीत करके अपने मन की शंका को दूर कर दें। वरना ये शक का जहर रिश्ते को खत्म कर देगा।


7. रोमांटिक फिल्में देखें


दिल टूटने वाले गाने और फिल्मों को देखने के बाद मन में कई बार अपने रिश्ते को लेकर भी सवाल पैदा होने लगते हैं। इसलिए रोमांटिक मूवीज को अपनी लिस्ट में ज्यादा रखें। साथ ही समय मिलने पर अपनी पार्टनर के साथ ऐसी प्यार भरी फिल्में देखें। इससे भी रिश्ते में गहराई आती है।


8. खुद को सकारात्मक रखें

नकारात्मक ऊर्जा से कभी किसी का भला नहीं हो सकता है। जबकि सकारात्मक ऊर्जा हमेशा रिश्ते को मजबूत बनाती है। खुद को सकारात्मक रखें। इस वजह से आपके अंदर एक अच्छी ऊर्जा का प्रवाह होगा। तब जाकर आप अपने रिश्ते पर यकीन कर सकोगे।


9. न लें किसी तीसरे की सलाह

किसी से भी सलाह लेना भारी पड़ सकता है। अगर अपने रिश्ते को लेकर परेशान हैं तो इसका जवाब सबसे पहले अपने आप से पूछें। अगर उसके बाद भी समस्या ज्यों की त्यों बनी हुई है तो किसी रिलेशनशिप एक्सपर्ट, साइकोलॉजिस्ट या रिलेशनशिप वेलनेस कोच से सलाह लें। लेकिन किसी से भी सुझाव लेने से बचें। 


10. रिश्ते को पर्याप्त समय दें

किसी भी रिश्ते को मजबूत बनाने से ही वह ताउम्र रह सकता है। इसके लिए आपको समय देना पड़ेगा। अपने रिलेशनशिप को पर्याप्त समय दें। इससे आप अपनी पार्टनर को अच्छी तरह समझ सकेंगे। इसके बाद मुझे नहीं लगता कि आपके मन में रिश्ता टूटने का डर पैदा होगा।


निष्कर्ष (Conclusion)

रिश्ता टूटने का भय, पार्टनर को खोने का डर... इस तरह के वहम रिलेशनशिप में रहने वालों के मन में आ सकते हैं। अगर आप इसको आने से रोक दें तो शायद अपने रिश्ते को बचा पाएंगे।


अगर इस डर का शिकार हो गए तो रिश्ता नहीं बचने वाला। इसलिए आप एक बेहतर रिलेशनशिप के लिए खुद को परफेक्ट पार्टनर (Perfect Partner) बनाएं। इसके बाद भला आपकी गर्लफ्रेंड क्यों छोड़कर जाना चाहेगी।

Post a comment

0 Comments